Rachin Ravindra : वह खिलाड़ी जिसने इंग्लैंड के खिलाफ ब्रिलियंट प्रदर्शन करते हुए वर्ल्ड कप में NZ के लिए जड़ा सबसे तेज शतक

Rachin Ravindra : रचिन रविंद्र, जिन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ धमाल मचाया, उनके बारे में जानें; वर्ल्ड कप में उन्होंने NZ के लिए सबसे तेज शतक की शानदार पारी खेली।

इंग्लैंड के 283 रन के लक्ष्य की पीछा करते हुए, न्यूजीलैंड ने पहला विकेट दूसरे ओवर में ही खो दिया था। इसके बाद, रचिन रविंद्र ने डेवन कॉनवे के साथ मिलकर टीम को संभाला और दो शतक जड़े। रचिन ने NZ के लिए वर्ल्ड कप में सबसे तेज शतक जड़ने वाले खिलाड़ी बना। उन्होंने 82 गेंदों पर शतक पूरा किया।

Rachin Ravindra

रचिन रविंद्र, NZ के युवा ऑलराउंडर ने अपने वर्ल्ड डेब्यू मैच में कमाल किया, वनडे वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के खिलाफ। उन्होंने डेवन कॉनवे के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 273 रनों की साझेदारी की।

रचिन ने 96 गेंदों पर नाबाद 123 रन की पारी खेली, जिसमें 11 चौके और 5 छक्के थे। इसके बाद, डेवन कॉनवे ने 121 गेंदों पर 152 रन बनाए। रचिन ने NZ के लिए वर्ल्ड कप में सबसे तेज शतक जड़ा।

रचिन रविंद्र, जो भारतीय मूल के हैं, ने बताया कि उनके पिताजी रवि कृष्णामूर्ति और माता दीपा कृष्णामूर्ति ने उन्हें सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ के खेल से प्रभावित किया है। रचिन ने स्टार स्पोर्ट्स के साथ एक इंटरव्यू में कहा है कि उन्हें इस नाम से गर्व है जो उनके क्रिकेट के भगवान और भारत की दीवार के नाम पर रखा गया है।

रचिन ने वॉर्मअप मैच में भी शानदार पारी खेली थी, जब उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ ओपनिंग किया था और कप्तान केन विलियमसन के साथ मिलकर 179 रनों की साझेदारी की थी। रचिन ने उस मैच में 97 रनों की पारी खेली थी, जिससे उनकी खूबसूरत शुरुआत को और भी चमक मिली।

कौन रचिन रविंद्र (Rachin Ravindra )कौन है  ?

Rachin Ravindra

 रचिन रविंद्र भारतीय मूल के है उनका  खास कनेक्शन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ से है । उनके पिता रवि कृष्णमूर्ति बंगलौर में सॉफ़्टवेयर शिल्पकार थे और क्रिकेट के शौकीन भी थे। कृष्णमूर्ति क्लब मैच खेलते थे और उन्होंने न्यूज़ीलैंड का जाने का फ़ैसला  लिया और वहां रहने लगे। रविंद्र के दादा बेंगलुरु के विजया कॉलेज में पढ़ाई करते थे। रचिन ने विलिंगटन में जन्म लिया और वहीं से क्रिकेट की शुरुआत की।

 

पहले उन्होंने न्यूज़ीलैंड के अंडर-19 टीम में जगह बनाई और बाद में टेस्ट टीम में खेलने का सफल सफर तय किया। उन्होंने अपने पहले टेस्ट मैच में भारत के खिलाफ उतरकर दमदार प्रदर्शन किया।

रचिन के पिताजी सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ के फैन थे, और इसी कारण उन्होंने अपने बेटे का नाम ‘रचिन रविंद्र’ रखा। इस नाम में ‘Ra’ राहुल से और ‘Chin’ सचिन से लिया गया है।

रचिन रविंद्र (Rachin Ravindra ) ने रचा इतिहास 

Rachin Ravindra

रचिन रविंद्र ने वनडे विश्व कप में न्यूजीलैंड की ओर से सबसे तेज शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। उन्होंने केवल 82 गेंदों पर शतक पूरा किया। इसके अलावा, रचिन रवींद्र ने वनडे विश्व कप में अपना पहला मैच खेलते हुए दुनिया के तीसरे सबसे युवा बल्लेबाज बनने का श्रेय प्राप्त किया।

विश्व कप में अपने पहले मैच में शतक बनाने वाले सबसे कम उम्र के बल्लेबाज की सूची में रचिन रविंद्र ने विराट कोहली और एंडी फ्लावर को पीछे छोड़ा। रचिन ने इस लिस्ट में 23 वर्ष और 321 दिन की आयु में शतक बनाया, जो कि विराट कोहली के 22 वर्ष 106 दिन और एंडी फ्लावर के 23 वर्ष 301 दिन के रिकॉर्ड को पार करने के लिए हुआ।

हमारे लिखे हुए लेखों को पढ़े 

ICC World cup 2023 Schedule pdf download

 

Leave a Comment