Diwali bonus for central government employees 2023

 

कर्मचारियों के दिवाली त्योहार का बड़ा तोहफा

इस वर्ष 2023 diwali bonus के लिए केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को एक खास तोहफा दिया है, जिसे आप ग्रुप बी और ग्रुप सी कर्मचारियों के लिए ‘नॉन-प्रोडक्टिविटी लिंक्ड बोनस’ कह सकते हैं। इस बोनस के साथ, सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली के मौके पर एक बड़ी खुशखबरी सुनाई है। इस लेख में, हमारी वेबसाईट arunsqaure.com के माध्यम से हम इस बोनस के बारे में विस्तार से जानेंगे और इसके महत्व को समझेंगे।

। इस diwali bonus 2023 के अंतर्गत सभी पात्र कर्मचारियों को 30 दिन के वेतन के बराबर राशि प्रदान की जाएगी। इस बोनस का लाभ केंद्र सरकार के ग्रुप बी और ग्रुप सी के अंतर्गत आने वाले अराजपत्रित कर्मचारियों को भी मिलेगा, जो किसी प्रोडक्टिविटी लिंक्ड बोनस स्कीम के तहत नहीं आते हैं। इस बोनस का फायदा केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के सभी योग्य कर्मचारियों को भी प्राप्त होगा।

railway bonus 2023 रेलवे सभी ग़ैर-गज़ेटेड कर्मचारियों को 78 दिन के वेतन के बराबर बोनस दिया जाता है  इसका मूल्यांकन ग्रुप डी के कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन के आधार पर होता है।  7वें वेतन आयोग के अनुसार न्यूनतम वेतन को 18,000 रुपये तक, इसके आधार पर बोनस 46,000 रुपये से अधिक हो सकता है। हालांकि बोनस का सीधा निर्धारण प्रदर्शन के आधार पर होता है, इसलिए सरकार को किसी भी निर्णय को लेने से पहले रेलवे की आय और व्ययों पर ध्यान देना होगा, जिसके आधार पर निर्णय लिया जाएगा।

 

यह बोनस क्यों दिया जाता है

नॉन-प्रोडक्टिविटी लिंक्ड बोनस का एक अद्वितीय पहलू यह है कि यह कर्मचारियों को उनकी मासिक सैलरी के बराबर पैसे बोनस के रूप में प्रदान किया जाता है। इससे कर्मचारी अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार कर सकते हैं और त्योहार के मौके पर और भी खुशहाल हो सकते हैं।

Diwali bonus मे अस्थाई कर्मचारी भी ले सकेगे लाभ

इस adhoc bonus 2023 के तहत, वे कर्मचारी भी लाभान्वित होंगे जो 31 मार्च 2023 को या उससे पहले सेवा से बाहर हो गए हैं, चाहे वे त्यागपत्र दे दिए हों या सेवानिवृत हों। यह विशेष केस के रूप में माना जाएगा। इसके लिए संबंधित कर्मचारी की नियमित सेवा की निकटवर्ती संख्या को आधार बनाकर ‘प्रो राटा बेसिस’ पर बोनस तय होगा।

इस तरह के बोनस के तहत, केंद्र सरकार के कर्मचारी अपने सेवानिवृत्ति के बावजूद भी एक आर्थिक सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

और पढे

World Cup 2023 Points Table

bonus calculation कैसे करे

आइए समझते है बोनस कैसे कैल्क्यलैट करते है , यदि किसी सरकारी कर्मचारी की मासिक सैलरी 18,000 रुपए है, तो उनका 30 दिनों का दिवाली बोनस कैसे निकाले

  1. सबसे पहले, मासिक सैलरी को ले लें, जो है 18,000 रुपए।
  2. फिर, इस सैलरी को 30 दिनों से गुणा करें, क्योंकि मासिक बोनस 30 दिनों के आधार पर होता है।
  3. अब, इस गुणा को 30.4 से भाग करें, क्योंकि साल में 30.4 दिन होते हैं (औसत महीने के आधार पर)।
  4. आखिरकार, इस परिणाम को आकर्षित करें और आपके पास बोनस की आधार राशि होगी, जिसका अंतर्निहित मूल्य तय होता है।

उपयुक्त कैलकुलेशन के अनुसार, 7,000*30/30.4 = 17,763.15 रुपए (17,763 रुपए) होंगे।

ad-hoc bonus  बोनस क्या है?

एडहॉक बोनस एक प्रकार का प्रोत्साहन है जो केंद्र सरकार के कर्मचारियों को दी जाती है। इसका मुख्य उद्देश्य कर्मचारियों को उनकी प्रोडक्टिविटी और निष्क्रियता के आधार पर बोनस प्रदान करना है।

Ad-hoc Bonus Order 2023 PDF

रेलवे कर्मचारियों के लिए दिवाली बोनस कितना है?

रेलवे सभी ग़ैर-गज़ेटेड कर्मचारियों को 78 दिन के वेतन के बराबर बोनस दिया जाता है  इसका मूल्यांकन ग्रुप डी के कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन के आधार पर होता है।  7वें वेतन आयोग के अनुसार न्यूनतम वेतन को 18,000 रुपये तक, इसके आधार पर बोनस 46,000 रुपये से अधिक हो सकता है। हालांकि बोनस का सीधा निर्धारण प्रदर्शन के आधार पर होता है, इसलिए सरकार को किसी भी निर्णय को लेने से पहले रेलवे की आय और व्ययों पर ध्यान देना होगा, जिसके आधार पर निर्णय लिया जाएगा।

मेरे बोनस की गणना कैसे की जाती है?

आइए समझते है बोनस कैसे कैल्क्यलैट करते है , यदि किसी सरकारी कर्मचारी की मासिक सैलरी 18,000 रुपए है, तो उनका 30 दिनों का दिवाली बोनस कैसे निकाले
सबसे पहले, मासिक सैलरी को ले लें, जो है 18,000 रुपए।
फिर, इस सैलरी को 30 दिनों से गुणा करें, क्योंकि मासिक बोनस 30 दिनों के आधार पर होता है।
अब, इस गुणा को 30.4 से भाग करें, क्योंकि साल में 30.4 दिन होते हैं (औसत महीने के आधार पर)।
आखिरकार, इस परिणाम को आकर्षित करें और आपके पास बोनस की आधार राशि होगी, जिसका अंतर्निहित मूल्य तय होता है।

Leave a Comment