कोचिंग सेंटर गाइड लाइन में 16 साल से कम आयु के छात्रों का प्रवेश निषेध

देश में कोचिंग सेंटर गाइड लाइन में प्रवेश से लेकर शिक्षा मंत्रालय ने एक नए दिशा निर्देश जारी किए है की 16 साल से कम उम्र के विद्यार्थी को कोचिंग संस्थान में प्रवेश नहीं दे सकेगें।

कोचिंग सेंटर गाइड लाइन के मुख्य बिंदु

  • शिक्षा मंत्रालय के निर्देश 16 साल के काम आयु के छात्रों का कोचिंग सेंटर में नहीं होगा प्रवेश
  • सरकार का मानना है की इससे देश भर में कोचिंग संस्थानों पर रोक लगाई जा सकती है ।

अवैध और भारी मात्रा में चल रहे कोचिंग सेंटर में अब सरकार ने रोक लगाने के लिए नई गाइडलाइन जारी की है दिशा निर्देशों के जारी होने के बाद तीन माह के अंदर पंजीकरण कराना होगा।

सरकार के यह कदम इसलिए उठाया है विद्यार्थियों की आत्महत्या के बढ़ते कदम मामले ,आग की घटना , सुविधाओ की कमी और शिक्षा की गुणवत्ता से मिली शिकायतों के बाद यह जारी किया है।

मंत्रालय ने यह निर्देश दिए है अगर कोचिंग संस्थान नियमों का उल्लंघन करते है तो 1 लाख तक जुर्माना और छात्रों से अधिक शुल्क वसूलने पर पंजीकरण रद्द करने के भी निर्देश दिए है । राज्य सरकार कोचिंग सेंटर में चल रही सारी गतविधियों में निगरानी के लिए जिम्मेदार होगी।

और पढ़े

दिल्ली से लक्षद्वीप कैसे जाए ?लक्षद्वीप पहुँचने से पहले परमिट क्यों है जरूरी

Leave a Comment