Atal bihari bajpai jayanti :अटल बिहारी बाजपेई की जयंती पर जाने इनके द्वारा भारत में किए गए प्रमुख योगदान

Atal bihari bajpai jayanti : अटल बिहारी बाजपेई एक भारतीय राजनितिज्ञ और प्रसिद्ध कवि थे । जिन्होंने भारत देश के लिए अपना संपूर्ण जीवन कुर्बान कर दिया। अटल बिहारी बाजपेई ने कई कविताओं का लेखन करके भी भारतवासियों का दिल जीत लिया। अटल बिहारी बाजपेई ऐसे पहले भारतीय विदेश मंत्री थे, जिन्होंने हिंदी भाषा में भाषण व अपनी अनुभूतियां बता कर पूरे विश्व मंडल को आश्चर्यचकित कर दिया था। इन्होने अपनी राष्ट्रभाषा को भी सम्मानित किया था जो इन्हें अधिक प्रिय थी।

Atal bihari bajpai jayanti 99 वी जयंती के रूप मे पूरे भारतदेश मे मनाई जा रही है। वर्ष 2025 में इनकी जयंती एक शताब्दी के रूप मे मनाई जाएगी। अटल बिहारी बाजपेई तीन बार भारत के प्रधानमन्त्री रह चुके हैं।

Atal bihari bajpai jayanti

Atal bihari bajpai jayanti पर याद करे उनके द्वारा किए गए प्रमुख योगदान

अटल बिहारी बाजपेई ने भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व के लिए अपना योगदान दिया है। दूसरे शब्दों में कहें तो इन्होंने भारत की अर्थव्यवस्था में ही नही बल्कि जो लोग समाज से वंचित हैं, उन्हें भी आगे बढ़ाने के लिए कई सामाजिक कार्य किए हैं। आइए जानते हैं, इनके द्वारा किए गए योगदान –

1. विज्ञान और अनुसंधान(science and research)

अटल बिहारी बाजपेई ने विज्ञान अनुसंधान में कई कार्य किए हैं,उन्होंने चंद्रयान 1 के परियोजना की शुरुआत की थी। बाजपेई ने 56 वें स्वतंत्रता दिवस पर अपने भाषण में कहा की – हमारा देश विज्ञान के क्षेत्र में बहुत ऊपर तक जा रहा है और आने वाले समय में ये अपनी प्रथम ऊंचाई पर होगी। इन्होंने भारत देश को परमाणु हथियार राज्य घोषित कर दिया है। सन 1998 मे भारत देश ने एक या दो सप्ताह में पांच परमाणु परीक्षण भी किए थे

2. सर्व शिक्षा अभियान( Sarva shiksha abhiyan)

अटल बिहारी बाजपेई ने सन 2001 में सर्व शिक्षा अभियान को लॉच किया। ये योजना लॉच होने के 4 साल के अंदर ही जो छात्र स्कूल से बाहर रहते थे उनकी भी संख्या में 60% की गिरावट देखने को मिली। इससे भी हमारे देश की आर्थिक अर्थव्यस्था की बढ़ोतरी हुई।

3.निजीकरण ( Privatisation )

अटल बिहारी बाजपेई ने कई प्राइवेट बिजनेस को बढ़ावा दिया जिससे सरकार की भागीदारी कम हो गई। इसलिए इन्होंने विनिमेश मंत्रालय का भी निर्माण किया। इन्होने एल्यूमीनियम कंपनी और हिंदुस्तान जिंक व vsnl मे विनीमेश करने का निर्णय लिया था।

4. स्वर्णिम चतुर्भुज और ग्राम सड़क योजना (golden quadrilateral and gramin sadak yojna)

बाजपेई ने कई सड़क योजनाओं को भी लागू किया था, जिसमे स्वर्णिम चतुर्भुज और प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना भी शामिल हैं। इस योजना ने कई नेटवर्क को जोड़ा है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य छोटे छोटे गावों को पक्की सड़कों के शहरों से जोड़ना।

5. नए विभागो का गठन (creation of new departments)

अटल बिहारी बाजपेई ने नए विभागो का गठन कई तरीकों से किया था। इनके द्वारा किए गए कार्यों को भारत वासी आज भी इन्हें याद करता हैं। अटल बिहारी बाजपेई के योगदान से देश को आगे बढ़ने की एक नई दिशा मिली और इसने एक नई ऊंचाई हासिल की।

यह भी पढे

Bonda mani biography : जाने कौन थे बोंडा मणि जिनका 60 वर्ष में हुआ देहांत ।

Ayesha khan net worth : कौन हैं आयशा खान ? मुन्नावर फरुकी पर क्या आरोप लगाया है ?

Leave a Comment